25 Ews Seats Will Increase In Aktu : एकेटीयू से सम्बद्ध कॉलेजों में 25 फीसदी ईडब्ल्यूएस सीटें बढ़ेंगी.

25 Ews Seats Will Increase In Aktu : एकेटीयू से संबद्ध संस्थानों में ईडब्ल्यूएस के तहत 25 फीसदी सीटें बढ़ाने के प्रस्ताव पर सहमति बन गई। सोमवार को आकस्मिक कार्य परिषद की बैठक में फैसला लिया गया है। इसके अलावा संबद्धता को लेकर भी मुहर लग गई है। कुलपति प्रो. जेपी पांडेय ने बताया कि पुराने और नए कॉलेजों की सम्बद्धता और कई अन्य मुद्दों को लेकर आकस्मिक कार्य परिषद की बैठक बुलाई गई। इसमें प्राविधिक विश्वविद्यालय से सम्बद्ध कॉलेज, संस्थानों में एआईसीटीई के प्रावधान के तहत ईडब्ल्यूएस की 25 प्रतिशत सीटें बढ़ेंगी।
कुलपति के अनुसार, यह 25 प्रतिशत सीटें किसी भी कॉलेज में 65 प्रतिशत सीटों के सापेक्ष बढ़ेंगी, क्योंकि किसी भी कॉलेज में 15 प्रतिशत सीटें मैनेजमेंट, 20 प्रतिशत सेंट्रल कोटे की होती हैं। इन्हें हटाने पर 65 प्रतिशत सीटें बचती है। इन्हीं सीटों पर 25 प्रतिशत ईडब्ल्यूएस सीटें बढ़ेंगी।

85 संस्थानों में 10 हजार सीटें बढ़ेंगी शासन से जिन संस्थानों की संबद्धता के लिए अनुमति मिली है, उन्हें संबद्धता देने को मंजूरी दी गई। नए सात इंजीनियरिंग कॉलेजों और कुछ अन्य कॉलेजों की संबद्धता पर भी मुहर लगी है। नए सत्र से 85 संस्थानों में अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई), मशीन लर्निंग, साइबर सिक्योरिटी, डाटा साइंस समेत कुछ अन्य नई ब्रांच और सीटें बढ़ाने पर भी सहमति बनी है। इससे करीब 10 हजार सीटें बढ़ जाएंगी। सम्बद्ध कॉलेजों की संख्या भी नए सत्र से करीब 770 हो जाएगी।

इन जिलों में इंजीनियरिंग कॉलेज का प्रस्ताव
एकेटीयू ने लखनऊ, कानपुर, ग्रेटर नोएडा, गोंडा, बस्ती, मिर्जापुर और प्रतापगढ़ में सात नए इंजीनियरिंग संस्थान खोलने का प्रस्ताव शासन भेजा है। जल्द ही अनुमति मिलने की उम्मीद है। कार्य परिषद की बैठक में कुलसचिव रीना सिंह, वित्त अधिकारी सुशील गुप्ता, आईईटी निदेशक प्रो. विनीत कंसल, विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा अन्नावि दिनेश कुमार, प्रति कुलपति प्रो. मनीष गौड़ आदि रहे।