Bihar Teacher Recruitment : बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती में चयनित 30 टीचरों ने दिया इस्तीफा और भी लाइन में जानें वजह

Bihar Teacher Recruitment : बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती फेज-1 की परीक्षा पास करने के बाद समस्तीपुर जिले के विभिन्न स्कूलों में योगदान देने वाले करीब 30 शिक्षकों ने त्यापत्र दे दिया है। चर्चा है कि अभी और नवनियुक्त शिक्षक त्यागपत्र देंगे। उन्होंने अपना त्यागपत्र डीईओ को दिया है। त्यागपत्र देने वालों में यूपी के शिक्षक शामिल हैं। त्याग पत्र स्वीकार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सभी शिक्षक जिले के ग्रामीण स्कूलों में योगदान कर शिक्षण कार्य कर रहे थे। अचानक इस्तीफे का दौर शुरु होने लगा। अभी और शिक्षकों के इस्तीफे देने की सूचना भी आने लगी है। इस्तीफा देने वालों में अधिकांश ने अपना कारण केंद्रीय विद्यालय व दूसरे विभाग में नौकरी मिल जाना बताया है।

एक साथ इतने शिक्षकों के इस्तीफे से डीईओ कार्यालय में हलचल मचा हुआ है। जितने शिक्षकों के इस्तीफे दिए जा चुके हैं उतने स्कूलों में विभिन्न वर्गों में शिक्षकों के भरे गए पद खाली हो गए हैं।

बची रिक्तियों का पूरक रिजल्ट जारी हो
पूरक रिजल्ट जल्द जारी करने की मांग को लेकर सोमवार को सैकड़ों अभ्यर्थियों ने गांधी मैदान में धरना दिया। छात्र नेता सौरभ कुमार सिंह ने कहा कि पूरक रिजल्ट मात्र 4700 पदों पर जारी करने की बात चल रही है। अभ्यर्थियों का कहना है कि एक लाख 20 हजार में अभी तक मात्र 92 हजार शिक्षकों की ही नियुक्ति हुई है। शेष 28 हजार से ज्यादा पद रिक्त हैं। ऐसी स्थिति में बची हुई रिक्तियों के लिए पूरक रिजल्ट जारी किया जाना चाहिए।
फेज-2 को लेकर गाइडलाइंस जारी
दूसरे चरण की बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा 7 दिसंबर से शुरू होने जा रही है। 8 लाख 41 हजार 835 अभ्यर्थी 15 दिसंबर तक परीक्षा देंगे। बीपीएससी ने मंगलवार को टीआरई 2.0 को लेकर विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए। अभ्यर्थियों को एक घंटा पहले तक ही परीक्षा केंद्र में एंट्री दी जाएगी। एक घंटा पहले यानी 11 बजे गेट बंद हो जाएंगे। आयोग ने कहा है परीक्षा केंद्र पर गहन तलाशी ली जाएगी इसलिए परीक्षार्थी तय समय से पहले पहुंचें। ढाई घंटे पहले एंट्री मिलना शुरू हो जाएगा। परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र की एक्स्ट्रा कॉपी साथ रखनी होगी।