Delhi Bangkok Flight Fare : दिल्ली-बैंकॉक फ्लाइट का किराया गुवाहाटी-शिलॉन्ग अगरतला से भी कम ट्रैवेल एजेंसियों ने सरकार से की ये अपील.

 

Delhi Bangkok Flight Fare : डोमेस्टिक फ्लाइट का किराया जब इंटरनेशनल फ्लाइट्स के किराये से ज्यादा होगा तो नाराजगी जाहिर सी बात है। जी हां, ऐसा ही हुआ है। दिल्ली से थाइलैंड (बैंकॉक) की फ्लाइट का किराया देश के पूर्वोत्तर के शहरों जैसे गुवाहाटी, शिलॉन्ग और अगरतला के लिए दिल्ली से किराये के मुकाबले सस्ता है। इसका ट्रैवल एजेंसियों और होटल ऑपरेटर्स ने विरोध किया है। इस पर खेद जताते हुए इस मामले में सरकार से हस्तक्षेप करने की अपील की है।
जानें किराये में है कितना अंतर
खबर के मुताबिक, ट्रैवल एजेंसियों का दावा है कि 1 दिसंबर को दिल्ली से बैंकॉक का हवाई किराया (एकतरफ़ा) 11,470 रुपये है, जबकि दिल्ली से शिलॉन्ग का हवाई किराया लगभग 14,974 रुपये है। भाषा की खबर के मुताबिक, बुधवार को यहां अंतरराष्ट्रीय पर्यटन बाजार के दौरान बी2बी बैठक में इस मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई।
घरेलू किराया महंगा होना अनुचित
पूर्वोत्तर राज्यों में पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों ने कहा कि दिल्ली/मुंबई से बैंकॉक का हवाई किराया शिलॉन्ग या अगरतला या किसी दूसरे राज्य की राजधानी की तुलना में सस्ता है। गुवाहाटी के एक ट्रैवल ऑपरेटर ने कहा कि हम इस बात को समझते हैं कि ऐसा बैंकॉक जाने वाले यात्रियों की संख्या की वजह से है। हम चाहते हैं कि भारत सरकार हस्तक्षेप करे और इसपर रोक लगाए क्योंकि इंटरनेशनल डेस्टिनेशंस की तुलना में घरेलू किराया महंगा होना अनुचित है।
1,300 करोड़ रुपये से ज्यादा की मंजूरी
खबर के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत पूर्वोत्तर क्षेत्र में 16 परियोजनाओं के लिए 1,300 करोड़ रुपये से ज्यादा की मंजूरी दी है। इसके अलावा 15 दूसरी परियोजनाएं स्वदेश दर्शन 2.0 के तहत विकसित की जा रही हैं। हाल में जारी आंकड़ों में कहा गया है कि अक्टूबर में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 11 प्रतिशत बढ़कर 1.26 करोड़ पर पहुंच गई है। सिविल एविएशन रेगुलेटर डीजीसीए के मुताबिक, सितंबर, 2023 में यह आंकड़ा 1.22 करोड़ यात्रियों का था।