UPPSC : यूपी में स्टाफ नर्स आयुर्वेद की 300 पदों पर भर्ती के लिए 9118 दावेदार.

UPPSC : उत्तर प्रदेश आयुष (आयुर्वेद) विभाग के तहत स्टाफ नर्स आयुर्वेद के 300 पदों (महिला 252 व पुरुष वर्ग 48) पर भर्ती के लिए 9118 अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं। इस प्रकार प्रत्येक पद पर 30 से अधिक दावेदार हैं। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने चार सितंबर से ऑनलाइन आवेदन मांगे थे। हालांकि हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने अक्तूबर के दूसरे सप्ताह में आयुर्वेदिक स्टाफ नर्सों के चयन के विज्ञापन पर रोक लगा दी थी।

याचिकाकर्ताओं की ओर से अदालत को बताया गया था कि राज्य सरकार ने 2011-12 से 2016-17 तक साढ़े तीन साल के लिए छह बैचों में 120 महिला आयुर्वेदिक नर्सिंग छात्रों को प्रशिक्षण दिया था। हालांकि, किसी को भी नियुक्त नहीं किया गया था। हाईकोर्ट के आदेश के बाद से आवेदकों में ऊहापोह की स्थिति है। आयोग ने भी भर्ती को लेकर स्थिति साफ नहीं की है।

एपीएस भर्ती के अब 16 नवंबर तक करें आवेदन
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की अपर निजी सचिव (एपीएस) परीक्षा-2023 के लिए अब 16 नवंबर तक अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं। आयोग ने 19 सितंबर 2023 को एपीएस के 328 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया था। एपीएस के पद को समूह ‘ख’ राजपत्रित मानते हुए नीलिट से ट्रिपलसी कंप्यूटर प्रमाणपत्र की अनिवार्यता रखी गई है। इससे पहले आयोग ने 2013 में 176 पदों पर भर्ती शुरू की थी जो अब तक पूरी नहीं हो सकी है।
एपीएस और सीधी भर्ती के आवेदन के लिए ओटीआर अनिवार्य है। बिना ओटीआर के अभ्यर्थियों के आवेदन स्वीकृत नहीं हो पा रहे हैं। बड़ी संख्या में अभ्यर्थी ओटीआर नहीं कर सके हैं। अगर आवेदन स्वीकृत नहीं हुए तो अभ्यर्थी भर्ती में शामिल होने से वंचित रह जाएंगे। यही वजह है कि आयोग ने एपीएस भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 16 नवंबर तक बढ़ा दी है। सीधी भर्ती के लिए भी आवेदन की अंतिम तिथि 16 नवंबर तक बढ़ा दी गई है।