JAC 12th Exam 2024 : 28 नवंबर से भरे जाएंगे इंटरमीडिएट के परीक्षा फॉर्म,

JAC 12th Exam 2024  : झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) ने इंटरमीडिएट परीक्षा 2024 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि घोषित कर दी है। 28 नवंबर से छात्र-छात्राएं ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। 12 दिसंबर तक बिना विलंब शुल्क के आवेदन किये जा सकेंगे, जबकि 13 दिसंबर से 20 दिसंबर तक विलंब शुल्क के साथ आवेदन भरे जाएंगे। इसमें स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ रहे नियमित, स्वतंत्र और पूर्ववर्ती छात्र-छात्राएं आवेदन कर सकेंगे।

स्कूल और कॉलेज छात्र-छात्राओं को आवेदन की प्रति उपलब्ध कराएंगे। छात्र-छात्राएं उसे विधिवत भरकर स्कूल लेकर आएंगे, जहां से शिक्षक उसे ऑनलाइन करेंगे। इससे पहले मैट्रिक परीक्षा के लिए 16 नवंबर से ऑनलाइन आवेदन भरे जा रहे हैं। दो दिसंबर तक इसके आवेदन भरे जाएंगे। जैक की ओर से मैट्रिक व इंटरमीडिएट परीक्षा 2024 का शिड्यूल पहले ही जारी किया जा चुका है। ये परीक्षाएं छह फरवरी से 26 फरवरी 2024 तक होंगी। जैक ने विलंब शुल्क के साथ नौवीं के रजिस्ट्रेशन की तिथि 30 नवंबर तक बढ़ाई है।

आकांक्षा की प्रवेश परीक्षा तीन मार्च को ली जाएगी
तीन मार्च 2024 को आकांक्षा की प्रवेश परीक्षा होगी। मैट्रिक परीक्षा के लिए निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर 9.45 बजे से एक बजे तक यह परीक्षा ली जाएगी। आकांक्षा की प्रवेश परीक्षा के लिए 30 नवंबर से 23 दिसंबर तक आवेदन भरे जाएंगे। छात्र-छात्राएं 25 जनवरी से इसका प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकेंगे। आकांक्षा में इंजीनियरिंग, मेडिकल और क्लैट की नि:शुल्क तैयारी कराई जाती है। इंजीनियरिंग के लिए भौतिकी, गणित, रसायन शास्त्र और मेंटल एबिलिटी टेस्ट, मेडिकल के लिए भौतिकी, जीव विज्ञान, रसायन शास्त्र और मेंटल एबिलिटी टेस्ट और क्लैट के लिए अंग्रेजी, जनरल नॉलेज, जनरल स्टडीज और मेंटल एबिलिटी टेस्ट की परीक्षा होगी। सभी की 40-40 अंकों की परीक्षा होगी।
प्राइमरी टीचर्स ट्रेनिंग परीक्षा में 92 फीसदी विद्यार्थी सफल
प्राइमरी टीचर्स ट्रेनिंग की परीक्षा में 92 फीसदी छात्र-छात्राएं सफल हुए हैं। 7354 छात्र-छात्राओं में से 7097 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए और 6511 सफल हुए हैं। इसमें 6510 परीक्षार्थी फर्स्ट डिविजन से और मात्र एक परीक्षार्थी सेकेंड डिविजन से पास हुए हैं। इस परीक्षा में 309 छात्र-छात्राएं असफल भी हुए हैं। प्राइमरी टीचर ट्रेनिंग की परीक्षा में 3044 छात्र में से 2767 और 4453 छात्राओं में से 3744 सफल हुई हैं।