Free Bus Travel : महिलाओं को मिला बड़ा तोहफा, बसों में फ्री सफर, नहीं देना होगा अब किराया!

होली पर देश भर की महिलाओं को सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है. अब महिलाओं को यात्रा के दौरान एक भी रुपया देने की जरूरत नहीं पड़ेगी यानी अब महिलाओं की बस में यात्रा फ्री होगी. देशभर में केंद्र सरकार एवं राज्य की सरकारों की तरफ से महिलाओं को कई सुविधाएं दी जाती हैं. इनमें महिलाओं को फ्री बस यात्रा एक प्रथम सुविधाओं में से एक है. बस में सफर करने वाली महिलाओं को कई राज्य सरकारें मुफ्त यात्रा करने की सुविधा प्रदान करती है. इनमें राजधानी दिल्ली जैसे शहर शामिल है.

आपको बता दें कि 1 अप्रैल के बाद से महिलाओं को बस टिकट में पूरे 50 फ़ीसदी की छूट मिलेगी सरकार ने इसका बड़ा ऐलान किया है. हालांकि देश की राजधानी दिल्ली में सरकार ने महिलाओं की बस यात्रा को पूरी तरह फ्री कर दिया है. दूसरे राज्य सरकारों ने भी महिलाओं के बस यात्रा में छूट की घोषणा की है.

आपको बता दें 8 मार्च को होली है और इसके साथ ही इंटरनेशनल महिला दिवस है, जिसको देखते हुए महिलाओं को फ्री सफर की सुविधा दी जा रही है. राजस्थान सरकार ने राज्य की महिलाओं को यह तोहफा दिया है. राज्य के मुख्यमंत्री ने ऐलान किया है कि करीब 3.5 करोड़ महिलाओं को फ्री सफर की सुविधा मिलेगी.

7 मार्च रात 12 बजे से मिलेगी सुविधा

गहलोत सरकार ने बताया है कि राजस्थान रोडवेज की बसों में सफर करने वाली महिलाओं और लड़कियों को किराया नहीं देना होगा. यह सुविधा 7 मार्च में रात 12 बजे से शुरू हो जाएगी और 8 मार्च रात 11.59 बजे तक दिए जाने वाले टिकटों पर लागू होगी.

यह भी पढ़े   7th Pay Commission : डीए बढ़ाने का ऐलान! 42% डीए मिलेगा अबकी बार, डीए एरियर भी होगा फैसला.

सरकारी खजाने पर पड़ेगा बोझ

आपको बता दें फ्री सुविधा सिर्फ राजस्थान की सीमा के अंदर ही मिलेगी. अगर कोई भी महिला राजस्थान से दिल्ली, वनारस या फिर किसी अन्य राज्य की सीमा में जाती है तो उसको राजस्थान राज्य की सीमा तक का किराया नहीं देना होगा और उसके आगे की यात्रा का किराया देना होगा. राज्य सरकार के इस फैसले से सरकारी खजाने पर करीब 7.50 लाख करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा.

1 अप्रैल के बाद किराए में मिलेगी 50 फीसदी छूट

इसके साथ ही राजस्थान सरकार ने 1 अप्रैल 2023 से महिला यात्रियों को बस के किराए में 50 फीसदी की छूट देने का ऐलान किया है. सरकार ने बताया है कि 1 तारीख के बाद यह फायदा मिलना शुरू हो जाएगा. इसके लिए महिलाओं को बसों में अपना आधार कार्ड देना होगा.