Old Pension Scheme : सरकार ने दिया बड़ा झटका! पुरानी पेंशन लागू करने से सरकार का इनकार.

सरकार की पुरानी पेंशन योजना कोझटका लग सकता है। निर्मला सीतारमण ने पैसा जारी करने से किया इनकार कर दिया हैं। निर्मला सीतारमण ने एनपीएस का पैसा राज्य सरकारों को देने से साफ इनकार कर दिया है। वित्त मंत्री ने कहा कि अगर कोई राज्य किसी वजह से यह डिसीजन लेता है कि एनपीएस के फंड को एक साथ दे दिया जाय तो ऐसा नहीं हो सकता है। इसके लिए साफ इंकार है। यह कर्मचारियों का पैसा है। कर्मचारी इस जमा पैसे पर ब्याज कमा रहा है। यह पैसा रिटायरमेंट के वक्त ही कर्मचारियों के हाथ में आएगा।

वही उत्तर प्रदेश में पुरानी पेंशन लागू करने के मुद्दे पर विधान परिषद में सोमवार को प्रश्न प्रहर के दौरान जमकर हंगामा हुआ। समाजवादी पार्टी ने इस मुद्दे को उठाते हुए तत्काल पुरानी पेंशन को बहाल करने की मांग की। जवाब में सरकार की तरफ से वित्त राज्यमंत्री मयंकेश्वर सिंह ने साफ कहा कि अब इसे लागू करना सम्भव नहीं है तो विरोध में सपा के सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके तत्काल बाद सपा ने सदन से बहिर्गमन कर दिया।

सपा के डा. मान सिंह यादव ने सवाल किया कि क्या पुरानी पेंशन लागू कराएंगे। जवाब में वित्त राज्यमंत्री ने कहा कि पहली अप्रैल 2004 से नई राष्ट्रीय पेंशन योजना लागू की गई है। यह राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली सरकार के राजकोषीय स्थिति में संतुलन बनाए रखने और कर्मचारियों व संगठित-असंगठित क्षेत्र के कार्मिकों व सामान्य जन को वृद्धावस्था में सुरक्षा देने के उद्देश्य से लाई गई है। उन्होंने कहा कि बीते 31 जनवरी तक 5.95 लाख सरकारी कर्मियों तथा स्वायत्तशासी संस्थाओं के 3.50 लाख कर्मचारियों का एनपीएस में पंजीकरण किया है।