Skin Care TIPS : रोज करें ये काम, तुरंत बढ़ेगी चेहरे की खूबसूरती, ख़त्म हो जाएंगे डार्क सर्कल.

अगर आप भी इस चमचमाती ग्लोइंग स्किन चाहते हैं तो आपके लिए आपको सही स्किन केयर करना बेहद जरूरी हो जाता है। ऐसे में आपको अपने क्यों का खासा ध्यान रखना पड़ेगा। स्किन ग्लोइंग के लिए सही तरीका स्किनकेयर रूटीन फॉलो करना है। अधिकतर लोग चेहरे पर ग्लो लाने के लिए कई तरह के क्रीम का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि नेचुरल तरीके से भी आप अपने स्किन को सुन्दर बना सकते हैं।

दरअसल, बढ़ती उम्र के साथ चेहरे पर उसका असर दिखता है। डार्क सर्कल और झुर्रियां आने लगती हैं। उल्टा सीधा खानपान, खराब लाइफ स्टाइल और कम नींद लेना चेहरे का नक्शा बिगाड़ देते हैं। यही वजह है कि 35 की उम्र पार होते ही आपका चेहरा 50 का लगने लगता है। ये समस्या उन लोगों के साथ ज्यादा होती है जो कम नींद लेते हैं। इसका सीधा असर स्किन और चेहरे पर होता है।

एक्सपर्ट्स कहते हैं कि शायद आपने कभी ध्यान ना दिया हो, लेकिन आपकी नींद और स्किन का भी आपस में एक गहरा संबंध होता है। क्योंकि जब आप कम नींद लेते हैं तो इससे आपकी आंखों में सूजन, काले घेरे और डल स्किन आदि की समस्या हो सकती है। इन सभी से बचने के लिए रात में कम से कम 7-8 घंटे की नींद लें। इससे आपकी स्किन अधिक यूथफुल व ब्यूटीफुल नजर आती है।

दरअसल, जब आप सो जाते हैं तो उस वक्त सेल्यूलर प्रोसेस काफी तेज होती है। ये त्वचा कॉलेजन और इलैस्टिन प्रोडयूस्ड करती हैं। नींद भरपूर आपकी स्किन की इलैस्टिसिटी को लंबे समय तक बनाए रखती है। इतना ही नहीं जब आप अच्छी और गहरी नींद सोते हैं तो दिमाग रिलैक्स करता है। बॉडी खुद को रिपेयर करती है। इसी दौरान स्किन रिपेयरिंग भी होती है, जिससे सुबह उठते ही स्किन ग्लो करते हुए दिखत
ग्लोइंग स्किन के लिए पर्याप्त नीदं के साथ आपको हेल्दी डाइट भी लेनी चाहिए। यह स्किन केयर रूटीन का सबसे अहम स्टेप है। क्योंकि डाइट सिर्फ आपकी सेहत पर ही असर नहीं डालती है, बल्कि इसका सीधा असर स्किन पर भी पड़ता है। इसलिए कम मसाले वाला खाना खाएं और डाइट में फलों को शामिल करें। इससे आपकी स्किन अधिक हाइड्रेटेड और यंगर नजर आती है।

Disclaimer: हमारा लेख केवल पाठक की जानकारी और जागरूकता बढ़ाने के लिए है। समाचार मेल इस लेख में प्रदत्त जानकारी और सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें।