Bihar News : हनीमून पर दार्जिलिंग जा रही दुल्हन ट्रेन से हो गई थी लापता हफ्ते बाद गुरुग्राम में मिली जानिए दूल्हे ने क्या कहा.

Bihar News : ट्रेन से कोई दुल्हन गायब हो जाए तो हर कोई जानना चाहता है… कैसे? वह गुरुग्राम में बरामद हुई तो उसका रूप देखकर पुलिस भी हैरान थी। गयी या ले जायी गई, क्यों-कैसे हुआ यह सब…बहुत कुछ जवाब यहां मिल जाएगा।

मुजफ्फरपुर से पति के साथ राजी-खुशी हनीमून के लिए ट्रेन से दार्जिलिंग के लिए निकली दुल्हन गायब हो गई तो हर कोई जानना चाहता है… कैसे? ‘अमर उजाला’ ने सबसे पहले यह बात सामने लायी कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के गुरुग्राम में बरामद हो गई। लेकिन, कहानी इतनी ही नहीं। वह क्यों-कैसे वहां गई, यह पुलिस अपने मुंह से नहीं बताना चाहती। बात कुछ वैसी ही है, जो अब कोर्ट में खुलेगी। फिलहाल यह साफ है कि बात कुछ ऐसी है कि पति या ससुराल वाले को नहीं, बल्कि मायके वालों को काजल सौंपी गई।

नाथूपुर गांव के पास डीएलएफ में मकान ढूंढ़ रही थी
नई दिल्ली से चलकर न्यू जलपाईगुड़ी तक जाने वाली ट्रेन संख्या 12524 से महिला का अपहरण हुआ था? अगर ऐसा है तो यह बेहद गंभीर है। इस गंभीरता को समझते हुए ‘अमर उजाला’ लगातार इस खबर की तह तक जाने का प्रयास कर रहा है। इसी क्रम में अब यह सामने आया है कि काजल का अपहरण तो नहीं हुआ था। होता तो वह अपने मायके-ससुराल से 1000 किमी से ज्यादा दूर इतनी आसानी से घूमकर मकान नहीं खोज रही होती। गुरुग्राम के सेक्टर 24 से सटे नाथूपुर में काजल को किसी ने पुलिस तक पहुंचा दिया। नोएडा या गुड़गांव के कई इलाकों में लोगों ने सेक्टर बसाने के लिए गांव की जमीन दे दी। ऐसा ही एक इलाका है नाथूपुर। नाथूपुर अब पूरी तरह गांव जैसा नहीं है, लेकिन है इसी तरह का। यहां पुलिस चौकी है। इसके पास डीएलएफ हाउसिंग सोसायटी में वह मकान ढूंढ़ रही थी। गुरुग्राम पुलिस के जांच अधिकारी (आईओ) शेरपाल ने बताया कि जब मकान ढूंढ़ने पहुंची तो वहां एक महिला को बताया कि यही नाथूपुर से आयी हूं। महिला को उसकी आवाज और उसके टोन से शक हुआ तो वह उसे थाने लेकर चली आयी। यहां शुरुआती पूछताछ के बाद उसे सिविल लाइंस स्थित वन स्टॉप सेंटर (One Stop Centre) में रखा गया था।

पिता, बड़े चाचा और चचेरे भाई पहुंचे थे गुरुग्राम
शुरुआती पूछताछ में काजल ने अपने परिजनों की जानकारी दी। मायके वालों को खबर दिया गया और इधर किशनगंज राजकीय रेल पुलिस (GRP) को भी खबर दी गई। यह जानकारी मुजफ्फरपुर में पति तक भी पहुंचायी गई कि काजल मिल गई है। काजल के पति को पहले शुक्रवार को किशनगंज बुलाया गया, फिर अब शनिवार को। किशनगंज में न्यायिक पदाधिकारी के पास शनिवार को काजल का बयान कलमबंद किया जाना है। नाथूपुर पीपी के सब-इंस्पेक्टर त्रिलोक ने बताया कि पिता, बड़े चाचा और दो चचेरे भाई काजल को ले जाने के लिए गुरुग्राम आए थे। उन्हें ही सुपुर्द किया गया, हालांकि जीआरपी की देखरेख में काजल को पहले किशनगंज ले जाया गया है।