Jan Aushadhi Kendra Will Open In 191 Packs Of Bihar : बिहार के 191 पैक्स में खुलेंगे जन औषधि केंद्र 37 जिलों से पांच-पांच पैक्स चिह्नित जानें आवेदन की शर्तें.

Jan Aushadhi Kendra Will Open In 191 Packs Of Bihar  : राज्यभर के 191 पैक्स में जन औषधि केंद्र खोले जायेंगे. इन केंद्रों में सस्ती दवाएं मिलेंगी. सुपौल के छह तथा शेष अन्य 37 जिलों में पांच-पांच पैक्सों में जन औषधि केंद्र खुलेंगे. राज्य सरकार की ओर से केंद्र को इन पैक्स की सूची भेज दी गयी है. इस साल ही इन पैक्स में जन औषधि केंद्र खुल जायेंगे. भागलपुर में महेशपुर फरीदमपुर, देवीपुर, सिंहपुर पूरब, हाजीपुर, कोदंडाडोहराडीह, गोपालगंज में कोन्हवा, यादवपुर शुक्ल, बड़हरा, वनकटवा, माजिरवाकला, बेतिया में सुखलही, हरना टांड़, सोमगढ़, लालसरैया, महालीबलुआ, भोजपुर में बसौरी, नारायणपुर, उदवंतनगर, हेतमपुर, हरिहरपुर, पूर्णिया में नंदनियां, सिंहपुर दियारा, रजीगंज, बेहरा, राजघाट गरैल पैक्स में जन औषधि केंद्र खुलेंगे.
पटना, जमुई समेत दस जिलों में यहां-यहां खुलेंगे केंद्र

पटना के कुरथौल, बेला, नेउरा, गोनपुरा, कल्याणपुर, सीवान के अमरपुर, हरपुर, पकवलिया, टेघड़ा, कुड़वा, जमुई में महादेव सिमरिया, कैन्डीह, गरसंडा, कैयार, कनौदी, किशनगंज में कोल्था, तुलसिया, विशनपुर, झाला, टेउसा, मधेपुरा में बेहरी, मानपुर, मठाई, बालमगढ़िया, गिद्धा, गया में रसलपुर, बारा, करमडीह, मदनबिगहा, चुरी, लखीसराय के बल्लोपुर, गोहरी, जानकीडीह, घोसैठ, महेशपुर, शेखपुरा में अवगिल चांडे, सामसबुजुर्ग पॉक, चोढ़दरगाह, कुसुम्भा, पॉक, वैशाली में समदुल्लाहपुर सातन, महुआसिंहराय, बैकुंठपुर, अख्तियापुर सेहान, सीतामढ़ी में अथरी, सौली रूपौली, पताही, परसंडी, सूरसंड पूर्वी, रोहतास के करसेरूआ, जमुहार, मुडियार, तेनुअज, जोनही पैक्स में दवाएं मिलेंगीं.

कैमूर समेत 12 जिलों के इन पैक्स में मिलेंगी सस्ती दवाएं

कैमूर में सलथुआ, जमुनीनार, बम्हौर खास, सावठ, कुड्डी, बक्सर में चुरामनपुर, नदांव, चिलहरी, ब्रह्मपुर, नावागनर, दरभंगा के पोखराम उत्तरी, हरसिंहपुर, डरहार, अरईबिरदीपुर, पिडरी, अरवल के सोनवर्षा, मुरादपुर हुजरा, पहलेजा, रामपुरचाय, निधवा, सुपौल के हरदी पश्चिम, बहसा, सुखासन, रतनपुर, मोतीपुर, घिवहा, सहरसा के मनोवर, चंद्रायन, अजगैबा, विराटपुर, घोड़दौड़, कटिहार के पश्चिमी चांदपुर, शेखपुरा, मौलानापुर, कुम्हड़ी, अरिहाना, मधुबनी में पिपरौन, परसाही पूर्वी, पंचरूखी, महिनाथपुर, पालीमोहन, मुजफ्फरपुर में पकाही, गोपालपुर तरौरा, करजाडीह, डिहुली ईशहाक, किशनुपर मोहिनी, खगड़िया में रानीसकरपुरा, अलौली, बांधचातर, अररिया के बटुरबाड़ी, खुटहा बैजनाथपुर, गोखलापुर, मजरख, हरिपुर, विशनपुर, बांका में बसमता, खेसर, दक्षिणी वारने, कुडरो, कठचातर लिलातरी पैक्स में सस्ती दवाएं मिलेंगी.

यह भी पढ़े   Udham Singh Nagar Teacher Will Not Be Able To Do Other Business : मास्टर साहब पढ़ाने के अलावा नहीं कर पाएंगे अन्य व्यवसाय शिक्षा विभाग हुआ सख्त किया जाएगा बर्खास्त.
10 जिलों में इन पैक्स में मिलेंगी सस्ती दवाएं

बेगूसराय के बाड़ा, दामोदरपुर, साहेबपुर कमाल पश्चिम, चिल्हाय, भवानंदपुर, नालंदा के सिंगथु, बराह, अजयपुर, एकसारा, मुजफरा, नवादा के जमुवा पटवा सराय, डुमरांवा, कौआकोल, फरहा, भवनपुर, शिवहर में शरीफनगर, चमनपुर, अम्बा उत्तरी, बसंतपट्टी, खैरवादर्प, जहानाबाद में किनारी, अमथुआ, मुरगांव, कोकरसा, नोआवां, मोतिहारी के बोकाने कला, बेतिया बसंत, सपही, बरमदिया, बड़हरवा महानंद, औरंगाबाद में खिरियावां, बेल, खरकनी, बेढना, करसांव, सारण में बरदहिया, चांदपुरा, मिरपुर जुअरा, बनपुरा, भरहोपुर, समस्तीपुर में हरपुर बोचहा, मउधनेशपुर उत्तर, बिरनामातुला, चंदौली, चकसाही, मुंगेर में ममई समेत अन्य पैक्स में जन औषधि केंद्र खुलेंगे.

पैक्स में जन औषधि केंद्र खोलने के लिए किसी भी जिले से नहीं आये प्रस्ताव

38 जिलों से पैक्स में जन औषधि केंद्र खोलने के लिए सहकारिता विभाग की ओर से जिलों से प्रस्ताव मांगे गये थे. प्रखंड व ग्रामीण स्तर पर सस्ती दवाएं उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार की ओर से यह पहल की गयी थी. केंद्र सरकार ने पूरे देश में इस साल अगस्त तक 1 हजार तथा दिसंबर तक 2 हजार पैक्स में जन औषधि केंद्र खोलने का निर्णय लिया है. इसी के तहत बिहार के सभी जिलों में पांच-पांच पैक्स में जन औषधि केंद्र खोले जाने हैं. मुख्यालय के अधिकारियों ने बताया कि जन औषधि केंद्र खोलने के लिए गाइडलाइन है. इसी के तहत पैक्स का चयन किया जा रहा है. पैक्स का कंप्यूटराजेशन कार्य पर फोकस किया गया है.

गांवों में सस्ती दवाएं व रोजगार भी मिलेगा

जेनरिक दवाओं का दाम ब्रांडेड दवाओं के मूल्य से कम होता है. पैक्स में जन औषधि केंद्र में सस्ती दवाएं उपलब्ध करायी जायेंगी. यहां फार्मासिस्ट की संविदा पर नियुक्ति होगी. फार्मासिस्ट दवाओं का वितरण करेंगे. इससे पैक्स का रोजगार बढ़ेगा. गांव के युवाओं को रोजगार मिलेगा.

यह भी पढ़े   Ex Oneplus Ceo Carl Pei : वनप्लस और नथिंग के बाद कार्ल पेई ने बनाई तीसरी कंपनी लॉन्च करेगी सस्ते प्रोडक्ट.
रख सकते हैं फार्मासिस्ट

जन-औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदक के पास न्यूनतम 120 वर्ग फुट की जगह होनी चाहिए. दवा दुकान खोलने के मानदंड के तहत व्यक्तिगत पात्रता डी फार्माया बी फार्मा होती है. कोई भी संगठन, एनजीओ, धर्मार्थ संगठन एवं अस्पताल इसके लिए बी फार्माअथवा डी फार्माडिग्रीधारकों को नियुक्त कर सकता है. पैक्सों के लिए भी यही नियम लागू होगा.

चल रहा है कम्प्यूटराइजेशन

पैक्सों की बैंकिंग गतिविधि बढ़ानेके लिए कम्प्यूटराइजेशन का काम चल रहा है. पहले चरण में 4500 पैक्सों में कंप्यूटर लगाए जा रहे हैं. यह इसलिए किया जा रहा है ताकि पैक्स कोऑपरेटिव बैंक की शाखा की तरह ग्रामीणों को सुविधा दे सके.

कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए 300 सेवाएं दे रहे

कृषि और सहकारिता कार्यों के बाद अब पैक्सों का कारोबारी दायरा बढ़ाया जा रहा है. इसके लिए कई अन्य सुविधाएं भी पैक्सों में शुरू की गई हैं. कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए करीब 300 तरह की सेवाएं पहले से ही शुरू की जा चुकी हैं. राज्य में अब तक करीब डेढ़ हजार पैक्सों में कॉमन सर्विस सेंटर शुरू किया जा चुका है. यहां से कई तरह के प्रमाण पत्र, आयकर, आधार कार्ड आदि बनाए जा रहेहैं. आर्थिक रूप से मजबूत पैक्स पंप और गैस एजेंसी भी शुरू कर सकते हैं.