NPS Rules : नए एनपीएस नियम से ग्राहकों को क्या होगा फायदा? SLW ऑप्शन से किन्हें मिलेगा लाभ पता करें पूरी जानकारी.

 NPS Rules  : नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) में हाल ही में पैसों की निकासी को लेकर बदलाव हुआ है। पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट ऑथोरिटी (PFRDA) ने सिस्टेमेटिक लंपसम निकासी (SLW) की सुविधा दी है।

इस सवुधा के बाद एनपीएस ग्राहकों को अपने सामान्य निकास के समय अपनी पसंद के अनुसार 75 वर्ष की आयु तक की अवधि के लिए मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर SLW के माध्यम से अपने पेंशन कोष का 60 प्रतिशत तक निकाल सकते हैं। चलिए जानते हैं इस नए एनपीएस नियम से एनपीएस ग्राहकों को कैसे फायदा होगा।

क्या है SLW?
म्यूचुअल फंड में जैसे सिस्टेमेटिक निकासी प्लान (SWP) होता है ठीक वही सुविधा अब एनपीएस ग्राहकों को मिली है जिससे एनपीएस ग्राहक अपनी पसंदीदा रकम एक नियमित अंतराल पर व्यवस्थित रूप से निकाल सकते हैं।
कैसे होगा नए नियम का फायदा?
एनपीएस ग्राहकों को रिटायरमेंट के बाद की पूरी अवधि के लिए एन्यूटी से बंधे रहने के बजाय यह तय करने की अनुमति मिल जाएगी कि वे अपने पैसों को कितना और कब निकालना चाहते हैं।

SLW, सेवानिवृत्त लोगों को समय-समय पर नकदी प्रवाह प्राप्त करने, उनकी सेवानिवृत्ति के बाद की आय बढ़ाने और नियमित खर्चों को कवर करने की अनुमति देता है। इस निकासी विधि को एक बार चुना जा सकता है जिसका भुगतान एनपीएस ग्राहक की पसंद के अनुसार किया जाता है।

किन्हें मिलेगा SLW का लाभ?
SLW उन सेवानिवृत्त लोगों के लिए एक आकर्षक ऑप्शन है जो अपनी रिटायरमेंट के वर्षों के दौरान लगातार आय का स्रोत चाहते हैं।
क्या है एनपीएस?
नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) रिटायरमेंट के लिए एक स्वैच्छिक और लॉन्गटर्म निवेश योजना है। यह पेंशन कार्यक्रम सशस्त्र बलों को छोड़कर सार्वजनिक, निजी और यहां तक ​​कि असंगठित क्षेत्रों के कर्मचारियों के लिए भी खुला है। वैसे लोग जो अपने रिटायरमेंट प्लानिंग के दौरान ज्यादा जोखिम नहीं उठाना चाहते उन लोगों के लिए एनपीएस स्कीम एक अच्छा विकल्प है। सालाना आधार पर एनपीएन ने 9 से 12 प्रतिशत का रिटर्न दिया है।