Public Provident Fund PPF Scheme : पीपीएफ योजना में बड़ा बदलाव! सरकार ने बदल दिया ये बड़ा नियम.

अगर आपने भी पब्लिक प्रोविडेंट फंड योजना में पैसा लगाया है तो आपको ध्यान देने की जरूरत है. सरकार ने पीपीएफ के नियमों में बड़ा बदलाव कर दिया है. आज के समय में पीपीएफ निवेश का एक बेस्ट ऑप्शन माना जाता है. इसमें मोटा ब्याज इसमें सबसे अधिक ब्याज के साथ टैक्स में भी छूट मिलती है. लेकिन आप अगर आपने चोटी से पहले अपनी पीपीएफ अकाउंट का पैसा निकालना चाहते हैं तो उसके नियमों में बदलाव कर दिया गया है.

पीपीएफ स्कीम में आपको कंपाउंडिंग के आधार पर 7.1 फीसदी रिटर्न मिलता है. कई बार ऐसा होता है कि आप पैसे निवेश तो कर देते हैं, लेकिन इमरजेंसी में इस पैसे को निकालना पड़ता है तो ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप मैच्योरिटी से पहले खाते से पैसा निकाल सकते हैं.

आपको बता दें इस योजना में एक व्यक्ति 500 रुपये से शुरुआत कर सकता है. वहीं, फाइनेंशियल ईयर में आप इसमें अधिकतम 1.5 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं. इतना ही नहीं, पीपीएफ में आपको एक निश्विच अवधि के बाद लोन और आंशिक निकासी की सुविधा का भी फायदा मिलता है.

क्या मैच्योरिटी से पहले खाते से निकाल सकते है पैसा?

कई बार ऐसा देखा गया है कि अगर आप समय से पहले पैसे निकाल लेते हैं तो आपसे पैसे निकालने का कारण पूछा जाता है और फिर भी आपको पूरा पैसा नहीं दिया जाता है. पब्लिक प्रॉविडेंट फंड के भी अपने नियम होते हैं इसके नियम के मुताबिक, आप 6 साल पूरे होने के बाद पैसों को निकाल सकते हैं और 5 साल पूरे होने के बाद बंद भी करवा सकते हैं. अगर आप 6 साल से पहले कुछ पैसा निकालना चाहते हैं तो आपके पास निकालने का वैलिड कारण होना चाहिए तभी आप अपना पैसा निकाल सकते हैं.

यह भी पढ़े   Free Ration Yojana : राशन कार्ड धारकों के लिए नोटिस जारी, मार्च में दो बार मिलेगा मुफ्त राशन.

कब निकाल सकते हैं पैसे?

पैसा निकालने के लिए आपके पास एक वैलिड कारण होना चाहिए. जैसे आप किसी बीमारी का इलाज कराना चाहते हैं या आप अपने परिवार के इलाज के लिए पैसा निकाल सकते हैं. इसके अलावा आप बच्चों की पढ़ाई और बच्चों की शादी के लिए भी पैसा निकाल सकते हैं.

पीपीएफ विड्रॉल के नियम

1. पीपीएफ में पैसे विड्रॉल के लिए आपको बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
2. फिर आपको बैंक की आधिकारिक वेबसाइट से फॉर्म C डाउनलोड करना होगा.
3. फॉर्म भरने के बाद बैंक में जमा करवा लें.
4. और अपना पीपीएफ अकाउंट भी बैंक को दिखाएं.
5. इसके बाद बैंक आपके खाते में जमा पैसे का 50 फीसदी देगा.